Home » » यंहा जाने GST क्या हैं? GST in Hindi हिंदी में जाने क्या हैं जीएसटी फायेदा और नुकशान

यंहा जाने GST क्या हैं? GST in Hindi हिंदी में जाने क्या हैं जीएसटी फायेदा और नुकशान

GST क्या हैं : दोस्तों जब से हमारे देश भारत में गस्त GST को लागू किया किया गया हैं सभी अब बस यही जनना चाहते हैं की GST क्या हैं GST (गस्त) के किया फाएदा हैं और इससे किसको किया फायेदा होगा या किसको नुकशान का सामना करना होगा भारत में अभी जिस प्रकार जीएसटी बहुत ही चर्चित का विषय बना हुआ हैं लोगों को अभी तक ये बात समझ में नही आया हैं की उन्हें जीएसटी से फायेदा होगा या नुकशान सभी उदाहरण के साथ जीएसटी क्या है? और जीएसटी कैसे लागू है?  गस्त जीएसटी का क्या मतलब है? जानना चाहते हैं| इसलिए मैं आपको इस पोस्ट के माध्यम से  जीएसटी क्या हैं और इसके क्या फायेदा और नुकशान हैं इसकी सारी महत्वपूर्ण जानकारी देने के लिए लिख रहा हूँ जिसके को जान्ने के लिए आप इस पोस्ट को अंतिम तक पढ़े और जाने जीएसटी क्या हैं (What is GST) और इससे से किस तरह से फायेदा किन लोगों को मिलेगा दोस्तों आप हमारे इस पोस्ट के माध्यम से हमने आप सभी उपभोक्ता को बताने और समझाने का प्रयाश किया GST क्या हैं से आपको क्या क्या फाएदा होगा और क्या होगा GST से नुकशान माल और सेवा कर (जीएसटी) इन हिंदी में दिया जाएगा हमारे मदद से आपको जानकारी

 GST क्या हैं? हिंदी में (What is GST)


जिस तरह भारत में हर इन्शान से जुबान पर सिर्फ आज कल जीएसटी किया हैं इसकी की चर्चा सुनने को मिल रहा हैं सभी वेक्ति सोच रहे हैं की हम को सरकार के द्वारा लिए गये इस फेशला से किया फायेगा होगा और क्या हमको नुकशान का सामना करना पर सकता हैं जीएसटी से इसके लिए सभी लोग अभी चिंता कर रहे हैं हम न सभी को बता दें की आपको जीएसटी से कुछ भी नुकशान नही होगा बस कुछ चीजो के मूल्य दर बढ़ जाएंगे और कुछ महत्वपूर्ण चीजो से मूल्य कम हो जाएंगे वस्तु एवं सेवा कर को जब से पारित किया गया हैं सभी के अन्दर बस एक सावला ने अपना जगह बना लिया हैं क्या होगा जीएसटी से हम कैसे अपना काम जीएसटी के माध्यम से कर सकते हैं या जीएसटी के अन्दर कर सकते हैं हमको किस बात का फाएदा होने वाला हैं और जिस प्रकार की नुकशान होंगे हमको इन्ही सब बातों मको सोच कर हमने आज इस पोस्ट के माध्यम से वस्तु एवं सेवा कर या जी एस टी भारत सरकार के द्वारा पारित की गयी इस योजना का पूर्ण रूप से विश्लेषण करने के बाद आप तक पंहुचा रहा हूँ आसा करता हूँ आपको ये पोस्ट अच्छा लगेगा

जीएसटी से फाएदा होगा या जीएसटी का नुकशान


कैसे समझे जीएसटी


वस्तु एवं सेवा कर या जी एस टी एक व्यापक, बहु-स्तरीय, गंतव्य-आधारित कर है जो हर एक वश्तु के मूल्य के साथ जरा जाएगा इसको समझने के लिए आपको इस परिभासा का उपयोग करना होगा जब कोई भी वस्तु निर्माण से लेकर जब तक उपभोगता के पास पहुचता है तब तक उसमे कई तरह से कर लगते हैं लेकिन अब से जीएसटी के रूप में हर वस्तु के मुल्त के साथ जोरा जाएगा जिसके बाद हर एक सामना का मूल्य बढ़ जाएगा निम्न स्तर के लोगों को इस निर्णय से कुछ हद तक नुकशान होगा जैसे पहला चरण हैं कच्चे माल की खरीद दारी दूसरा चरण हैं उत्पादक का जर्मान होना तीसरा चरण हैं निर्माण किये गये वस्तु का भण्डार इस सब प्रोससे के बाद कोई भी वस्तु रिटेलर के पास पहुचती हैं और अब आप किसी भी दूकान से उस समग्री को क्रीड पाते हैं आपको हम बता दें की उस चरण में हर जगह कर का भुक्तान करना परता हैं

वस्तु एवं सेवा कर इतना महत्वपूर्ण क्यों है?


अब आपको इस पैराग्राफ में बताने वाला हु की वस्तु एवं सेवा कर इतना महत्वपूर्ण क्यों है? दोस्तों वर्तामान में भारत देश की कर कई प्रकार के माध्यम से दिया जाता हैं पहले तो जीएसटी को हमारे पूर्व प्रधानमंत्री अटल विहारी वाजपयी आज से 17 वर्ष पहले लागू करना चाहते थे लेकिन उन्होंने यह काम नही किया भारत के नए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 1 जुलाई को जीएसटी को लागू किया इस में अलग-अलग टैक्स श्रेणियां बनाई गई हैं जो 5 से 28 फ़ीसदी के बीच हैं। वित्त मंत्री अरुण जेटली ने पत्रकार को बताया की हम gst में 1211 आइटम्स में 6 श्रेणियों को छोड़कर बाक़ी की जीएसटी दरें तय हो गई हैं

क्यूँ जरूरी हैं जीएसटी


वर्तमान में भारत का कर ढांचा बहुत ही जटिल हैं भारतीय संविधान के अनुसार मुख्य रूप से वस्तुओ की विक्री पर कर लगाने का अधिकार राज्य सरकार को हैं और वस्तुओ के उत्पादन w सेवाओं पर कर लगाने का अधिकार केंद्र सरकार को है इस कारण देश में अगल अलग तरह से कर लगाया जाता हैं जिससे देश की अर्थव्यवस्था पर बहुत ही जटिल हो जाती हैं कई कम्पनिया अपने अनुसार भी वस्तु पर कर लगती होएँ जिससे सभी वस्तु का मुल्त डर बढ़ जाता हैं और इससे आप आदमी के जीवन को इसे पलना बहुत ही मुस्किल हो जाता हैं

GST से भारत के अर्थव्यवस्था पर किया प्रभाव परेगा?
01.gst लागू होने के बाद सभी कर खत्म हो जायेंगे और बस एक ही कर रह जाएगा वो हैं खुद पहले आपको 20 अलग अलग टेक्स चुकाने होते थें लेकिन अब आपको बस एक ही कर चुकाना होगा वो हैं gst कर

02.gst के लागू होने के बाद केन्र्द और राज्य सरकार के द्वारा लगाये जाने वाले कर से आपको छुटकारा मिलेगा इस तरह से आपको 20 अलग तरह के अप्रत्यक्ष कर नही वसूले जायेंगे

03.कुछ विशेषज्ञ का मानना हैं की gst लागू होने से बहुत सारे विकास बढ़ जायेंगे

04.gst से सबसे महत्वपूर्ण लाभ यह होगा कि पूरे भारत में एक ही रेट से टैक्स लगेगा जिससे सभी राज्यों में वस्तुओं और सेवाओं की कीमत एक जैसी होगी।

 जीएसटी में कोन कोन की चीज आएगी?


दोस्तों यंहा से अब आपको बताया जा रहा हैं की किस किस वस्तु पर कितना टेक्स आपको भुक्तान करना होगा किस वस्तु का मूल्य कम होगा किस वस्तु कमुली बढ़ जाएगा साथ ही आपको हमारे साईट के माध्यम से बताया जाएगा की आपको कान्हा से किस प्रकार का टेक्स चुकाना होगा अगर आप सभी उपभोक्ता ने अभी तक gst के लिए रजीस्टर नही करवाया हैं तो आपको यहाँ से इसमें रजीस्टर करवाया जाएगा दोस्तों आपको जीएसटी की साड़ी जानकारी निचे दिया गया हैं जिसको ध्यान से देखे और समझे की हमको किया फायेदा होगा gst से और किया किया नुकशान का सामना करना होगा

ज़ीरो फ़ीसदी (जिन पर नहीं लगेगा टैक्स)

  • तजा दूध
  • अनाज
  • तजा फल
  • नमक
  • चावल पापर
  • रोटी
  • जानवरों का चारा
  • कोंडम
  • गर्वनिरोधक दवाएं
  • किताबे
  • जलावन की लकरी
  • चुरियाँ


इन पर लगेगा 5 फ़ीसदी टैक्स

  • झारू
  • ताम्बे का बर्तन
  • लोगे स्टील लोहे की मिस्र्धतु
  • कृत्रिम किडनी
  • जियोमेट्री बॉक्स
  • चाय, कॉफ़ी
  • खाने का तेल
  • ब्रांडेड अनाज
  • सोयाबीन, सूरजमुखी के बीज
  • ब्रांडेड पनीर
  • कोयला (400 रुपये प्रति टन लेवी के साथ)
  • केरोसीन
  • घरेलू उपभोग के लिए एलपीजी
  • ओरल रिहाइड्रेशन सॉल्ट
  •  
इन पर लगेगा 12 फ़ीसदी टैक्स
  •  
  • ड्राई फ्रूट्स
  • घी, मक्खन
  • नमकीन
  • मांस-मछली
  • दूध से बने ड्रिंक्स
  • फ़्रोज़ेन मीट
  • बायो गैस
  • मोमबत्ती
  • एनेस्थेटिक्स
  • अगरबत्ती
  • दंत मंजन पाउडर
  • चश्मे के लेंस
  • बच्चों की ड्रॉइंग बुक
  • कैलेंडर्स
  • एलपीजी स्टोव
  • नट, बोल्ट, पेंच
  • ट्रैक्टर
  • साइकल
  • एलईडी लाइट
  • खेल का सामान
  • आर्ट वर्क

इन पर लगेगा 18 फीसदी कर

  • रिफाइंड शुगर
  • कंडेंस्ड मिल्क
  • प्रिजर्व्ड सब्ज़ियां
  • बालों का तेल
  • साबुन
  • हेलमेट
  • नोटबुक
  • जैम, जेली
  • सॉस, सूप, आइसक्रीम, इंस्टैंट फूड मिक्सेस
  • मिनरल वॉटर
  • पेट्रोलियम जेली, पेट्रोलियम कोक
  • टॉयलेट पेपर


इन पर लगेगा 28 फ़ीसदी टैक्स

  • मोटर कार
  • मोटर साइकल
  • चॉकलेट, कोकोआ बटर, फैट्स, ऑयल
  • पान मसाला
  • फ़्रिज़
  • परफ़्यूम, डियोड्रेंट
  • मेकअप का सामान
  • वॉल पुट्टी
  • दीवार के पेंट
  • टूथपेस्ट
  • शेविंग क्रीम
  • आफ़्टर शेव
  • लिक्विड सोप
  • प्लास्टिक प्रोडक्ट
  • रबर टायर
  • चमड़े के बैग
  • मार्बल, ग्रेनाइट, प्लास्टर, माइका
  • टेम्पर्ड ग्लास
  • रेज़र
  • डिश वॉशिंग मशीन
  • मैनिक्योर, पैडिक्योर सेट
  • पियानो
  • रिवॉल्वर
जीएसटी से जुरे रोचक तथ के लिए यंहा से देखें
प्रिय दोस्तों आपको हमारे साईट के माध्यम से मिलती जानकारी आपको अच्छी लगी हो तो आप इसको अपने मित्रों के साथ फेसबुक या what'app पर share कर सकते हैं जीएसटी की पूरी जानकारी पाने के लिए आप सभी के लिए सरकार के द्वारा ये आधिकारिक वेबसाइट का निर्माण किया गया हैं सभी से आग्रह हैं की उस वेबसाइट पे जाके और भी अधिक जानकारी प्राप्त कर सकते हैं- www.cbec.gov.in

0 comments:

Post a Comment